#JusticeForVinayaki: ZEE NEWS की मुहिम का असर, हथिनी की हत्या मामले की जांच के लिए SIT का गठन

नई दिल्ली: केरल के पलक्कड़ में हथिनी की हत्या मामले में ZEE NEWS की मुहिम का बड़ा असर हुआ है. ZEE NEWS पर #JusticeForVinayaki मुहिम चलाने के बाद केरल सरकार ने इस मामले की SIT जांच के आदेश दे दिए हैं. केरल सरकार ने 8 सदस्यों की SIT का गठन किया है. शौरनुर के डिप्टी एसपी की अगुआई में SIT का गठन किया गया है. बता दें कि पलक्कड़ के मन्नारकाड थाने में 3 जून को इस मामले में FIR दर्ज की गई थी. 

केरल में हथिनी की हत्या पर पूरा देश गुस्से में है. सोशल मीडिया पर हर तीसरी-चौथी पोस्ट हथिनी की हत्या से जुड़ी हुई है. ट्विटर से लेकर फेसबकु तक लोगों ने हथिनी की हत्या पर अपना गुस्सा दिखाया है. इसीलिए ZEE NEWS ने आपकी आवाज सुनी और इस खबर को मुहिम बनाया. जानवर किसी के लिए वोट बैंक नहीं होते, शायद इसीलिए कुछ नेता जो छोटी से छोटी घटना पर ट्वीट कर देते हैं वो हथिनी की हत्या पर ऐसे खामोश हैं, जैसे कुछ हुआ ही नहीं है.

ये भी पढ़ें- केरल में ही क्यों होती है सबसे ज्यादा हाथियों की मौत? जानें क्या कहते हैं आंकड़े

हथिनी को इंसाफ दिलाने के लिए ZEE NEWS ने #JusticeForVinayaki मुहिम चलाई है. ZEE NEWS की इस मुहिम को देश का साथ मिला और इसका असर भी देखने को मिल रहा है. आप भी इससे जुड़ सकते हैं. हमें #JusticeForVinayaki पर ट्वीट करें.

ये भी पढ़ें- जानवरों पर अत्याचार की कहानी! जानें Zoo में कैसे जिंदगी से जंग लड़ते हैं ये बेजुबान

हाथिनी विनायकी की हत्या सभ्य समाज पर एक कलंक है. विनायकी की हत्या ने हर किसी को झकझोर कर रख दिया है. पशु अधिकारों के लिए काम करने वाली बीजेपी सांसद मेनका गांधी ने केरल में हाथियों की हत्या पर विस्फोटक खुलासा किया है. मेनका गांधी ने ज़ी न्यूज़ से बातचीत में कहा है कि केरल में हाथियों के हत्यारों को राज्य सरकार का संरक्षण मिलता है. 

[source_ZEE NEWS]
%d bloggers like this: