#JusticeForVinayaki: हाथियों के साथ इंसाफ के लिए ZEE NEWS की मुहिम से जुड़ा देश

नई दिल्ली: केरल (Kerala) के मल्लापुरम में एक गर्भवती हथिनी की मौत के मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है. खाने की तलाश में जंगल से गांव में आ गई इस हथिनी को कुछ लोगों ने अनानास में पटाखे छिपाकर खिला दिए थे. विस्फोट से हथिनी का जबड़ा बुरी तरह घायल हो गया था, जिसके बाद वो कुछ भी खा नहीं पा रही थी. 27 मई को इस हथिनी की वेल्लियार नदी में भूख और कमजोरी से मौत हो गई. सोशल मीडिया पर बात फैली तो पूरे देश से इस हथिनी को इंसाफ दिलाने की आवाज उठने लगी है. हथिनी को इंसाफ दिलाने के लिए ZEE NEWS ने #JusticeForVinayaki मुहिम चलाई है. 

ZEE NEWS की इस मुहिम को देश का साथ मिल रहा है. आप भी इससे जुड़ सकते हैं. हमें #JusticeForVinayaki पर ट्वीट करें.

ये भी पढ़ें- केरल में ही क्यों होती है सबसे ज्यादा हाथियों की मौत? जानें क्या कहते हैं आंकड़े

विनायकी एक हाथी के सिर वाली हिंदू देवी हैं. हालांकि पौराणिक कथाओं में उनको स्पष्ट रूप से परिभाषित नहीं किया गया है. हिंदू शास्त्रों में भी उनके बारे में बहुत कम बताया गया है और इस देवी के बहुत कम चित्र मौजूद हैं. हाथी की विशेषताओं के कारण देवी को आमतौर पर हाथी के सिर वाले ज्ञान के देवता भगवान गणेश के साथ जोड़ा जाता है.

ये भी पढ़ें- जानवरों पर अत्याचार की कहानी! जानें Zoo में कैसे जिंदगी से जंग लड़ते हैं ये बेजुबान

केरल में हथिनी की मौत पर जी न्यूज की मुहिम के बाद पर्यावरण मंत्रालय ने केरल सरकार से रिपोर्ट मांगी है. सीएम विजयन ने कहा है कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा. न्याय की जीत होगी. 

महात्मा गांधी जी ने कहा था किसी मुल्क की महानता का अंदाजा इसी बात से लगा सकते हैं कि वहां के लोग जानवरों के साथ कैसा सलूक या बर्ताव करते हैं. इस चीज को अगर पैमाना माना जाए तो आप भारत को महान कहेंगे. लेकिन केरल के पलक्कम में जो हुआ उसने ना सिर्फ मानवता को शर्मसानर किया बल्कि भारत की छवि को भी बड़ा झटका  पहुंचाया है.

[source_ZEE NEWS]
%d bloggers like this: