DNA ANALYSIS: Lockdown के अगले चरण में कितनी राहत मिलेगी?

नई दिल्ली: भारत और ज्यादा रियायतों के साथ पांचवे लॉकडाउन में प्रवेश करने जा रहा है. इसे लेकर आज गृहमंत्री अमित शाह ने तमाम राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बातचीत भी की. चौथा लॉकडाउन 31 मई को खत्म हो रहा है और पांचवे लॉकडाउन का स्वरूप क्या होगा, इसे लेकर अभी पुख्ता तौर पर कुछ नहीं कहा जा सकता. लेकिन आज हमने सूत्रों और विशेषज्ञों से बातचीत के आधार पर ये समझने की कोशिश की है कि पांचवे लॉकडाउन का रंग और रूप क्या हो सकता है. 

पहली बात ये है कि 31 मई के बाद नए रूटों पर हवाई उड़ानें शुरू हो सकती हैं. खासकर छोटे शहरों के लिए उड़ानें जल्द शुरू होने की संभावना है, हालांकि अंतर्राष्ट्रीय हवाई यात्राओं के लिए अभी आपको कम से कम अगस्त तक का इंतजार करना होगा. 

इसके अलावा एक जून से करीब 200 ट्रेने चलाए जाने की भी योजना है. इसके लिए टिकट बुकिंग शुरू भी हो चुकी है. 

इस महीने करीब 50 लाख श्रमिकों को श्रमिक ट्रेनों के जरिए उनके घरों तक पहुंचाया जा चुका है. ओडिशा और आंध्र प्रदेश जैसे राज्य इंटर स्टेट बस सर्विस शुरू कर चुके हैं. लेकिन 1 जून के बाद से बाकी राज्य भी ऐसा कर सकते हैं और मेट्रो ट्रेनें चलाने का भी फैसला लिया जा सकता है. हालांकि शुरुआत में इनकी संख्या कम होगी और सोशल डिस्टेन्सिंग का भी ध्यान रखा जाएगा. 

पांचवे लॉकडाउन के तहत और भी ज्यादा दुकानें और बाजार खोलने की इजाजत दी जा सकती है. हालांकि शॉपिंग मॉल्स को लेकर ऐसा फैसला लिए जाने की उम्मीद काफी कम है. 

देखें DNA-

जिम, सिनेमा हॉल, धार्मिक स्थलों और सैलून्स को लेकर भी फैसला लिया जा सकता है. लेकिन जिन इलाकों में अब भी कोरोना वायरस के मामले ज्यादा हैं, वहां के लोगों को अभी और इंतजार करना पड़ सकता है. 

इसके अलावा शिक्षा मंत्रालय स्कूलों को फिर से खोलने के लिए नई गाइडलाइंस बनाने पर भी काम कर रहा है. इन गाइडलाइंस के तहत ये हो सकता है कि 9वीं 10वीं, 11वीं और 12वीं के छात्रों को पहले स्कूल जाने की इजाजत दी जाए और स्कूलों को सख्ती के साथ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए कहा जाए. 

[source_ZEE NEWS]
%d bloggers like this: