Advertisements

मार्केट फीस पर भिड़े आढ़ती और सेक्रेटरी

रोपड़ की थोक सब्जी मंडी में लगी लोगों की भीड़।
– फोटो : ROPAR

ख़बर सुनें

थोक सब्जी मंडी में मार्केट कमेटी के सेक्रेटरी और आढ़तियों में मंडी फीस को लेकर हुए विवाद के दौरान बड़ी संख्या में गाड़ियों को मंडी से बाहर नहीं जाने दिया गया। मंडी में सब्जी की बिक्री का काम भी बंद करवा दिया गया। मंडी में सब्जी बेचने और खरीदने आए लोगों का बड़े स्तर पर जमावड़ा हो गया। मामला उलझता देख सिविल और पुलिस प्रशासन के अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। आढ़तियों और मार्केट कमेटी के सेक्रेटरी हरमिंदर सिंह के बीच काफी समय तक मंडी फीस कम जमा होने को लेकर बहस चलती रही।
सिविल प्रशासन से तहसीलदार कुलदीप सिंह और पुलिस प्रशासन की ओर से एएसपी रवि कुमार व एसएचओ कुलबीर सिंह अन्य पुलिस मुलाजिमों के साथ मौके पर उपस्थित थे। किसी ने भी मंडी में लोगों को नियमों का पालन करने के लिए नहीं कहा। ज्यादातर लोगों ने मास्क नहीं पहना हुआ था। सोशल डिस्टेंसिंग भी नहीं। मार्केट कमेटी के सचिव हरमिंदर सिंह ने कहा कि मंडी में अचानक की गई जांच के दौरान देखा गया कि आढ़ती लोगो़ को बिल नहीं दे रहे थे। मंडी फीस पूरी नहीं भरी जा रही है। आढ़ती मंडी फीस चोरी कर रहे हैं। आढ़ती यूनियन के प्रधान रोहित आनंद ने कहा कि मंडी में काम सही चल रहा था। मार्केट कमेटी के सेक्रेटरी ने एक दम मंडी में आकर माहौल बिगाड़ दिया। उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से कम की गई मार्केट फीस लागू की जाए। आढ़ती पप्पी ने कहा कि इस दौरान जमींदारों और आढ़तियों का बड़ा नुकसान हुआ है। इस दौरान तहसीलदार कुलदीप सिंह ने हिदायतों के उल्लंघन के लिए मार्केट कमेटी के सेक्रेटरी को ही जिम्मेदार बताया और उनसे जवाब लेने की बात कही। कुछ समय बाद एसडीएम की मौजूदगी में विवाद हल हो गया।

थोक सब्जी मंडी में मार्केट कमेटी के सेक्रेटरी और आढ़तियों में मंडी फीस को लेकर हुए विवाद के दौरान बड़ी संख्या में गाड़ियों को मंडी से बाहर नहीं जाने दिया गया। मंडी में सब्जी की बिक्री का काम भी बंद करवा दिया गया। मंडी में सब्जी बेचने और खरीदने आए लोगों का बड़े स्तर पर जमावड़ा हो गया। मामला उलझता देख सिविल और पुलिस प्रशासन के अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। आढ़तियों और मार्केट कमेटी के सेक्रेटरी हरमिंदर सिंह के बीच काफी समय तक मंडी फीस कम जमा होने को लेकर बहस चलती रही।

सिविल प्रशासन से तहसीलदार कुलदीप सिंह और पुलिस प्रशासन की ओर से एएसपी रवि कुमार व एसएचओ कुलबीर सिंह अन्य पुलिस मुलाजिमों के साथ मौके पर उपस्थित थे। किसी ने भी मंडी में लोगों को नियमों का पालन करने के लिए नहीं कहा। ज्यादातर लोगों ने मास्क नहीं पहना हुआ था। सोशल डिस्टेंसिंग भी नहीं। मार्केट कमेटी के सचिव हरमिंदर सिंह ने कहा कि मंडी में अचानक की गई जांच के दौरान देखा गया कि आढ़ती लोगो़ को बिल नहीं दे रहे थे। मंडी फीस पूरी नहीं भरी जा रही है। आढ़ती मंडी फीस चोरी कर रहे हैं। आढ़ती यूनियन के प्रधान रोहित आनंद ने कहा कि मंडी में काम सही चल रहा था। मार्केट कमेटी के सेक्रेटरी ने एक दम मंडी में आकर माहौल बिगाड़ दिया। उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से कम की गई मार्केट फीस लागू की जाए। आढ़ती पप्पी ने कहा कि इस दौरान जमींदारों और आढ़तियों का बड़ा नुकसान हुआ है। इस दौरान तहसीलदार कुलदीप सिंह ने हिदायतों के उल्लंघन के लिए मार्केट कमेटी के सेक्रेटरी को ही जिम्मेदार बताया और उनसे जवाब लेने की बात कही। कुछ समय बाद एसडीएम की मौजूदगी में विवाद हल हो गया।

Source AMAR UJALA