मां की पुण्यतिथि पर कैंसर मरीजों को खिलाया भोजन, अब रोज भिजवा रहे

  • लॉकडाउन में ढाबे का कामकाज प्रभावित, मरीजों की संख्या भी बढ़ी, फिर भी जज्बा रहा बरकरार
  • 13 साल टीबी अस्पताल में भिजवाया खाना, अब रोजाना 150 मरीजों को खिला रहे

दैनिक भास्कर

Jun 01, 2020, 05:16 AM IST

बठिंडा. अनाज मंडी स्थित अशोका ढाबा के संचालक अशोक कुमार वर्मा डेढ़ साल से एडवांस कैंसर अस्पताल में मरीजों को सुबह-शाम भोजन खिलाने की निष्काम सेवा कर रहे हैं, लॉकडाउन में भी मरीजों के लिए डाइट देने का सिलसिला रुका नहीं बल्कि अन्य दिनों की अपेक्षा ज्यादा लोगों के लिए खाना भिजवाया।

हालांकि लॉकडाउन की वजह से ढाबे का कामकाज भी प्रभावित हुआ, वहीं बीकानेर जाने वाले ट्रेन कैंसिल होने से मरीजों की संख्या दोगुणा हो गई लेकिन इनका जज्बा बरकरार रहा और बाकायदा प्रशासन की अनुमति लेकर हर मरीज व उनके अटेंडेंट को खाना खिलाया।

कैंसर अस्पताल के मेडिकल स्टाफ की ओर से प्रतिदिन मरीजों की डाइट व उनकी संख्या आदि की डिमांड ढाबे पर भिजवाई जाती है। उसी के आधार पर सुबह के नाश्ते में दलिया, खिचड़ी, दूध, ज्यूस, दही, परांठे व दाल-रोटी भिजवाई जाती है।

सुबह 8.30 बजे अशोका ढाबा की ओर से बड़े टिफिन में खाना पैक करके ऑटो के जरिए कैंसर अस्पताल पहुंचाया जाता है जहां अस्पताल स्टाफ व केयर टेकर की ओर से आईसीयू अथवा वार्ड में मरीजों को उनके बेड तक खाना परोसा जाता है। इसी क्रम में शाम 7.30 बजे अस्पताल से मुलाजिम ढाबे पर खाना के टिफिन लेकर आते हैं।

प्रतिदिन सुबह-शाम 150 लोगों के लिए खाना भिजवाया जाता है जिसमें मरीज व उनके अटेंडेंट शामिल होते हैं। अशोक कुमार बताते हैं कि उनके पास परमात्मा का दिया सब कुछ है जबकि बीमारी से जूझ रहे मरीजों को खाना खिलाने से असीम सुख की अनुभूति होती है।

सेवा के काम में दिखावा करने की कभी इच्छा नहीं रखी, और न ही इसे जारी रखने के लिए किसी से कोई आर्थिक व राशन आदि की मदद मांगी हालांकि कुछेक दानी सज्जन अपनी मर्जी से किसी न किसी तरह से सहयोग करते रहते हैं। मरीजों को खाना खिलाने का सिलसिला निरंतर जारी रखना ही उनकी दिली इच्छा है।

वे लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंदों के लिए राधास्वामी डेरा ब्यास के गिलपत्ती में प्रतिदिन 9600 लोगों के लिए खाना तैयार करवाते रहे हैं।

13 साल टीबी अस्पताल में भिजवाया खाना, अब रोजाना 150 मरीजों को खिला रहे 

मरीजों की तकलीफ को समझते हुए अशोक कुमार के मन में मानसा ग्रोथ सेंटर स्थित एडवांस कैंसर अस्पताल में दाखिल मरीजों के लिए खाना खिलाने की इच्छा जगी और 19 जनवरी 2019 को अपनी माता स्व. कमलादेवी की पुण्यतिथि के दिन इस नेक काम की शुरुआत कर दी।

खाना खाते वक्त मरीजों के दिल से निकलने वाली दुआओं ने उन्हें भरपूर ताकत दी जिसकी बदौलत उन्होंने खाना भिजवाने का क्रम टूटने नहीं दिया।

कैंसर अस्पताल में ज्यादातर जरूरतमंद परिवार ही अपना इलाज करवाने आते हैं जबकि शहर से दूरदराज अस्पताल के आसपास ढाबा-रेस्टोरेंट भी नहीं है, ऐसे में कई दिनों तक दाखिल रहने वाले मरीजों को अपने घर अथवा दूरदराज से खाना लाने की दुश्वारियां हैं।

अस्पताल के डॉ. परविंदर सिंह सिद्धू की ओर से मरीजों के लिए खाना का प्रबंध करवाने के प्रयास कर रहे थे, सौभाग्य से अशोक कुमार से संपर्क हो गया।

अशोक कुमार इससे पहले 13 साल से सिविल अस्पताल के टीबी वार्ड में मरीजों को खाना खिलाते रहे हैं लेकिन अस्पताल प्रशासन ने इन्हें एनजीओ बनाने के हिदायत दी जिस पर उन्हें यह मुहिम बंद कर देनी पड़ी लेकिन उन्होंने मरीजों को खाना खिलाने की इच्छा दबने नहीं दी और कैंसर मरीजों को खाना खिलाना शुरू कर दिया।

Source BHASKAR

%d bloggers like this: