महाराष्ट्र, गुजरात में NDRF तैनात, दोपहर ढाई बजे मुंबई पहुंचेगा Nisarga तूफान

नई दिल्ली: अरब सागर के ऊपर बन रहा चक्रवाती तूफान निसर्ग (Nisarga) महाराष्ट्र और गुजरात के तटीय जिलों में आज दोपहर तक दस्तक दे सकता है, जिसे देखते हुए राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) की 39 टीमों को तैनात किया गया है. एनडीआरएफ की 39 टीमों में से 16 गुजरात में, 20 महाराष्ट्र में, दो दमन एवं दीव, और एक दादरा एवं नगर हवेली में तैनात किया गया है. एनडीआरएफ की ज्यादातर टीमें अरब सागर से लगे तटीय जिलों में तैनात हैं.

मौसम विभाग के मुताबिक निसर्ग तूफान 11 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से उत्तर महाराष्ट्र के तट की ओर बढ़ रहा है. अभी ये महाराष्ट्र के अलीबाग से 200 किलोमीटर दूर है और मुंबई से 250 किलोमीटर दूर है. निसर्ग दोपहर ढाई बजे के करीब मुंबई तट पर पहुंचेगा.

तटीय इलाकों से समय पर लोगों को खाली करवाने और राज्य की एजेंसियों के साथ समन्वय के लिए एनडीआरएफ की 39 टीमें तैनात की गई हैं. मंगलवार से ही जागरूकता अभियान शुरू हो चुका है. एनडीआरएफ की एक टीम में 45 कर्मी होते हैं.

एनडीआरएफ के महानिदेशक एस.एन. प्रधान ने मंगलवार को कहा कि महाराष्ट्र और गुजरात के अनुरोध पर एनडीआरएफ की अतिरिक्त टीमें भेजी गई हैं. एनडीआरएफ ने कुछ टीमों को बिल्कुल तैयार भी रखा हुआ है, जो चरम स्थिति में मदद मुहैया कराएंगी. हालांकि यह कोई गंभीर तूफान नहीं है, फिर भी सभी एहतियात बरते जा रहे हैं.

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले देश का पूर्वी तट तूफान अम्फान से बुरी तरह प्रभावित हुआ था और अब पश्चिमी तट पर अरब सागर के ऊपर चक्रवात निसर्ग बन रहा है. भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा है कि डिप्रेशन मंगलवार सुबह 5.30 बजे एक गहरे डिप्रेशन में बदल गया.

1961 के बाद तीन जून को महाराष्ट्र से टकराने वाला निसर्ग पहला चक्रवात होगा. चक्रवाती तूफा मुंबई और महाराष्ट्र, गुजरात व पड़ोसी राज्यों के अन्य तटीय जिलों को प्रभावित करेगा.

[source_ZEE NEWS]
%d bloggers like this: