बाजार सुबह 7 से शाम 7 बजे, ठेके एक-एक घंटा देर तक खुलेेंगे धार्मिक स्थल, होटल, रेस्टोरेंट व शॉपिंग मॉल 8 मई से खोले जाएंगे

  • सिनेमा हाॅल, स्कूल-कॉलेज, स्विमिंग पुल, जिम आदि अभी बंद रहेंगे
  • संगरूर में कोरोना का शतक, संभलना जरूरी

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 07:36 AM IST

संगरूर. पंजाब सरकार के ताजा आदेशों के अनुसार अनलॉक फेज-1 में शहर व ग्रामीण क्षेत्रों के बाजार सुबह 7 से लेकर शाम 7 बजे तक और शराब के ठेके सुबह 8 से रात 8 बजे खुले रहेंगे।

कर्फ्यू रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक कर दिया गया है, इस दौरान बाहर नहीं निकल सकते। फिलहाल, एहतियात के तौर पर कंटेनमेंट जोन में कोई राहत नहीं होगी। अभी, धार्मिक स्थल, होटल, रेस्टोरेंट और शॉपिंग मॉल को 7 जून तक और इंतजार करना पड़ेगा।

8 जून ने इन सभी स्थानों को कुछ शर्तों के साथ खोला जा सकेगा। डीएसपी सतपाल शर्मा ने बताया कि वर्तमान समय में सैनिक रेस्ट हाऊस के पास सब्जी रेहड़ियों की भीड़ होने लगी थी, जोकि ठीक नहीं थी।

रणबीर क्लब के पुरानी सब्जी मंडी में दोबारा बुधवार से रेहड़यों को शिफ्ट किया जा रहा है। सावधानी को देखते सब्जी विक्रेता फड़ी पर सब्जी नहीं बेच सकेगा। वहीं सरकार द्वारा ट्रेन चलाने को भी इजाजत दी गई है।

एक से दूसरे जिले तक जाने के लिए कोवा एप के जरिए ई-पास बनवाना होगा। इधर, जिले में  सोमवार को 3 और मरीज पॉजिटिव पाए गए है। इनमें गांव घनौर खुर्द की रहने वाली 39 वर्षीय मां उसकी 13 वर्षीय बेटी है।

वहीं धूरी वासी 55 वर्ष व्यक्ति जो कि संक्रमित के संपर्क में आया था, शामिल है। अबतक जिले में 101 कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आ चुके हैं।

व्यापार मंडल बोला-एक दिन कारोबार बंद की नीति बने|व्यापार मंडल के प्रधान जसविन्द्र सिंह प्रिंस का कहना है कि संगरूर में कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं। ऐसे में आम लोगों के साथ- साथ दुकानदार और कोरोबारी के मन भी भय है।

सरकार कोई ऐसी नीति तैयार करे, जिससे एक दिन को कोरोबार बंद कर कारोबारी अपनी सेहत आदि की जांच करवा सके।

होटल एंड रेस्टोरेंट एसो. बोली

राहत देकर होटल व रेस्टोरेंट्स को खुलवाना चाहिए|होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के प्रधान इकबालजीत सिंह पुनियां का कहना है कि ढाई माह से पहोटल व रेस्टोरेंट बंद पड़े हैं। मालिकों का करोड़ों रुपए का नुकसान हो रहा है। सरकार को होटल व रेस्टोरेंट मालिक के पक्ष में नीति तैयार कर इसे तुरंत खुलवाना चाहिए। लॉकडाउन पीरियड के बिजली बिल आदि फिक्स खर्चों पर भी सरकार रियायत दे।

Source BHASKAR

%d bloggers like this: