Advertisements

पंजाब में लोगों को बड़ी राहत, संपत्ति टैक्स जमा करने की तारीख सरकार ने बढ़ाई

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, चंडीगढ़
Updated Tue, 19 May 2020 08:28 PM IST

ख़बर सुनें

पंजाब सरकार ने कोरोना के कारण पैदा हुए हालात को ध्यान में रखते हुए 30 जून तक बिना किसी जुर्माने के बकाया हाउस टैक्स या संपत्ति कर का भुगतान करने की समय सीमा बढ़ा दी है। इसके साथ ही राज्य की शहरी स्थानीय निकायों में जल और सीवरेज चार्ज की वसूली के लिए एकमुश्त नीति के तहत समय सीमा को भी 30 जून तक बढ़ा दिया गया है।यह जानकारी स्थानीय निकाय मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा ने मीडिया को दिए बयान में दी। मंत्री ने कहा कि नई नीति के अनुसार ऐसे व्यक्ति जो हाउस टैक्स या संपत्ति टैक्स, इनमें से कोई भी जमा नहीं कर पाएं हैं, इस अधिनियम के तहत अब मूलधन का एकमुश्त निपटारा 10 प्रतिशत की छूट के साथ 30 जून तक करवा सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- अमृतसर में बड़ी वारदात, दिनदहाड़े बैंक कर्मियों को बंधक बनाया, 10.92 लाख लूट हथियारबंद फरार

उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति 30 जून तक हाउस टैक्स या संपत्ति टैक्स जमा नहीं करवा सकेंगे, वह मूलधन की राशि के साथ दस प्रतिशत जुर्माने के साथ निर्धारित अवधि के बाद अगले तीन महीने के अंदर जमा करवा सकते हैं। अगर वे तीन माह की अवधि में भी टैक्स जमा नहीं कराते, उन्हें निर्धारित तारीख के बाद बकाया राशि पर 18 प्रतिशत ब्याज दर सहित देय राशि पर 20 प्रतिशत जुर्माना देना होगा।

सार

  • दस प्रतिशत छूट के साथ एकमुश्त पैसा जमा कराने की सुविधा
  • पानी व सीवरेज शुल्क जमा कराने की अवधि भी 30 जून तक बढ़ाई

विस्तार

पंजाब सरकार ने कोरोना के कारण पैदा हुए हालात को ध्यान में रखते हुए 30 जून तक बिना किसी जुर्माने के बकाया हाउस टैक्स या संपत्ति कर का भुगतान करने की समय सीमा बढ़ा दी है। इसके साथ ही राज्य की शहरी स्थानीय निकायों में जल और सीवरेज चार्ज की वसूली के लिए एकमुश्त नीति के तहत समय सीमा को भी 30 जून तक बढ़ा दिया गया है।

यह जानकारी स्थानीय निकाय मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा ने मीडिया को दिए बयान में दी। मंत्री ने कहा कि नई नीति के अनुसार ऐसे व्यक्ति जो हाउस टैक्स या संपत्ति टैक्स, इनमें से कोई भी जमा नहीं कर पाएं हैं, इस अधिनियम के तहत अब मूलधन का एकमुश्त निपटारा 10 प्रतिशत की छूट के साथ 30 जून तक करवा सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- अमृतसर में बड़ी वारदात, दिनदहाड़े बैंक कर्मियों को बंधक बनाया, 10.92 लाख लूट हथियारबंद फरार

उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति 30 जून तक हाउस टैक्स या संपत्ति टैक्स जमा नहीं करवा सकेंगे, वह मूलधन की राशि के साथ दस प्रतिशत जुर्माने के साथ निर्धारित अवधि के बाद अगले तीन महीने के अंदर जमा करवा सकते हैं। अगर वे तीन माह की अवधि में भी टैक्स जमा नहीं कराते, उन्हें निर्धारित तारीख के बाद बकाया राशि पर 18 प्रतिशत ब्याज दर सहित देय राशि पर 20 प्रतिशत जुर्माना देना होगा।

Source AMAR UJALA