पंजाब में लॉकडाउन 30 जून तक बढ़ाने की घोषणा, गरीबों को राशन के साथ मिलेंगे मास्क

अमर उजाला ब्यूरो, चंडीगढ़
Updated Sun, 31 May 2020 02:12 AM IST

पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह
– फोटो : फाइल फोटो

ख़बर सुनें

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सूबे में लॉकडाउन को और चार हफ्ते बढ़ाते हुए 30 जून तक करने की घोषणा की है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुसार कुछ और ढील देने का फैसला लिया जाएगा। हालांकि विशेषज्ञों ने हॉस्पिटलिटी उद्योग और मॉल खोलने की सलाह नहीं दी है लेकिन मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की तरफ से लॉकडाउन 5.0 के लिए केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों को ध्यान में रखते हुए अगला कदम उठाया जाएगा।मुख्यमंत्री ने शनिवार को कैबिनेट मंत्रियों भारत भूषण आशु, बलबीर सिंह सिद्धू और तृप्त रजिंद्र सिंह बाजवा समेत सीनियर अधिकारियों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये कोरोना महामारी संबंधी जमीनी स्थिति का जायजा लेने के बाद लॉकडाउन बढ़ाने के फैसले का एलान किया। 

यह भी पढ़ें- पाकिस्तानी की गुहार, ‘मोदी साहब! मेरा कबूतर वापस कर दीजिए, मैं बहुत चाहता हूं’, पढ़ें- मामला

यह कदम 31 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ाने संबंधी केंद्र सरकार के फैसले की तर्ज पर होगा। अमरिंदर ने गरीबों को मुफ्त मास्क बांटने के आदेश दिए। उन्होंने खाद्य एवं सिविल सप्लाई मंत्री भारत भूषण आशु को जरूरतमंद और गरीब, जो मास्क नहीं खरीद सकते, को राशन किटों के साथ मास्क बांटने के लिए तुरंत जरूरी कदम उठाने की हिदायत दी। 

गांवों में निजी बसें चलाने पर रोक नहीं
एक प्रश्न के जवाब में मुख्यमंत्री ने बताया कि उन्होंने निजी बसों को गांवों में चलाए जाने से नहीं रोका है और इस संबंध में फैसला निजी बस मालिकों को लेना है।

सार

  • मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कैबिनेट की बैठक के बाद किया एलान
  • कहा- केंद्र के दिशा-निर्देशों पर और ढील देने का होगा फैसला

विस्तार

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सूबे में लॉकडाउन को और चार हफ्ते बढ़ाते हुए 30 जून तक करने की घोषणा की है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुसार कुछ और ढील देने का फैसला लिया जाएगा। हालांकि विशेषज्ञों ने हॉस्पिटलिटी उद्योग और मॉल खोलने की सलाह नहीं दी है लेकिन मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की तरफ से लॉकडाउन 5.0 के लिए केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों को ध्यान में रखते हुए अगला कदम उठाया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने शनिवार को कैबिनेट मंत्रियों भारत भूषण आशु, बलबीर सिंह सिद्धू और तृप्त रजिंद्र सिंह बाजवा समेत सीनियर अधिकारियों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये कोरोना महामारी संबंधी जमीनी स्थिति का जायजा लेने के बाद लॉकडाउन बढ़ाने के फैसले का एलान किया। 

यह भी पढ़ें- पाकिस्तानी की गुहार, ‘मोदी साहब! मेरा कबूतर वापस कर दीजिए, मैं बहुत चाहता हूं’, पढ़ें- मामला

यह कदम 31 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ाने संबंधी केंद्र सरकार के फैसले की तर्ज पर होगा। अमरिंदर ने गरीबों को मुफ्त मास्क बांटने के आदेश दिए। उन्होंने खाद्य एवं सिविल सप्लाई मंत्री भारत भूषण आशु को जरूरतमंद और गरीब, जो मास्क नहीं खरीद सकते, को राशन किटों के साथ मास्क बांटने के लिए तुरंत जरूरी कदम उठाने की हिदायत दी। 

गांवों में निजी बसें चलाने पर रोक नहीं
एक प्रश्न के जवाब में मुख्यमंत्री ने बताया कि उन्होंने निजी बसों को गांवों में चलाए जाने से नहीं रोका है और इस संबंध में फैसला निजी बस मालिकों को लेना है।

Source AMAR UJALA

%d bloggers like this: