पंजाब: मास्क न पहना तो 500, कार में सोशल डिस्टेंसिंग न रखी तो 2000 जुर्माना

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, चंडीगढ़
Updated Fri, 29 May 2020 09:57 PM IST

ख़बर सुनें

पंजाब सरकार ने कोरोना वायरस के मद्देनजर विभिन्न जुर्माना राशि बढ़ा दी है। अब मास्क न पहनने पर 500 और कार में सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन न करने पर 2000 रुपये जुर्माना लगेगा। स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने विभाग की उच्चस्तरीय समीक्षा मीटिंग के दौरान इसका खुलासा करते हुए कहा कि राज्य को महामारी से सुरक्षित रखने के लिए यह जरूरी है।पहले सार्वजनिक स्थानों पर मास्क न पहनने पर 200 और थूकने पर 100 रुपये जुर्माना लगता था जिसे बढ़ा दिया गया है। वहीं होम क्वारंटीन का उल्लंघन करने पर 500 रुपये दंड लगाया जाता था। 

यह भी पढ़ें- शादी के लिए नई शर्त, प्रदेश से बाहर गई बरात तो दूल्हा-दुल्हन समेत बराती होंगे होम क्वारंटीन

ये लगा सकते हैं जुर्माना 
स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि बीडीपीओ, नायब तहसीलदार और डिप्टी कमिश्नरों द्वारा अधिकृत कोई भी अधिकारी महामारी रोग अधिनियम, 1897 की धाराओं के अंतर्गत जुर्माना लगा सकता है। 

अगर जुर्माना न दिया तो…
यदि उल्लंघन करने वाले द्वारा जुर्माना नहीं दिया जाता तो उसके विरुद्ध आईपीसी की धारा 188 के अंतर्गत कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

यह होगी जुर्माने की नई राशि- 

  • होम क्वारंटीन तोड़ने वालों पर 2000 रुपये 
  • सार्वजनिक स्थान पर थूकने पर 500 रुपये
  • सोशल डिस्टेंसिंग न रखी तो दुकानदार पर 2000 रुपये
  • सामाजिक दूरी न रखी तो बस मालिक पर 3000 रुपये
  • ऑटो और दोपहिया वाहनों पर 500 रुपये
पंजाब सरकार ने कोरोना वायरस के मद्देनजर विभिन्न जुर्माना राशि बढ़ा दी है। अब मास्क न पहनने पर 500 और कार में सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन न करने पर 2000 रुपये जुर्माना लगेगा। स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने विभाग की उच्चस्तरीय समीक्षा मीटिंग के दौरान इसका खुलासा करते हुए कहा कि राज्य को महामारी से सुरक्षित रखने के लिए यह जरूरी है।

पहले सार्वजनिक स्थानों पर मास्क न पहनने पर 200 और थूकने पर 100 रुपये जुर्माना लगता था जिसे बढ़ा दिया गया है। वहीं होम क्वारंटीन का उल्लंघन करने पर 500 रुपये दंड लगाया जाता था। 

यह भी पढ़ें- शादी के लिए नई शर्त, प्रदेश से बाहर गई बरात तो दूल्हा-दुल्हन समेत बराती होंगे होम क्वारंटीनये लगा सकते हैं जुर्माना 
स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि बीडीपीओ, नायब तहसीलदार और डिप्टी कमिश्नरों द्वारा अधिकृत कोई भी अधिकारी महामारी रोग अधिनियम, 1897 की धाराओं के अंतर्गत जुर्माना लगा सकता है। 

अगर जुर्माना न दिया तो…
यदि उल्लंघन करने वाले द्वारा जुर्माना नहीं दिया जाता तो उसके विरुद्ध आईपीसी की धारा 188 के अंतर्गत कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

यह होगी जुर्माने की नई राशि- 

  • होम क्वारंटीन तोड़ने वालों पर 2000 रुपये 
  • सार्वजनिक स्थान पर थूकने पर 500 रुपये
  • सोशल डिस्टेंसिंग न रखी तो दुकानदार पर 2000 रुपये
  • सामाजिक दूरी न रखी तो बस मालिक पर 3000 रुपये
  • ऑटो और दोपहिया वाहनों पर 500 रुपये

Source AMAR UJALA

%d bloggers like this: