दिल्ली एयरपोर्ट पर 25 मई से सुबह 4:30 बजे उड़ान भरेगी पहली फ्लाइट, जानें क्या हैं नए नियम

नई दिल्ली: दिल्ली से 25 मई की सुबह 4:30 बजे पहली फ्लाइट शुरू होगी लेकिन कोराना काल में अब एयरपोर्ट पर आपको बहुत कुछ बदला नजर आएगा. दिल्ली एयरपोर्ट पर इस संक्रमण को रोकने और यात्रियों की सुरक्षा के लिए विशेष कदम उठाए गए हैं. सबसे पहले तो प्रत्येक यात्री को मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है. इसके साथ ही ये सुझाव भी दिया गया है कि सैनेटाईज़र भी अपने साथ रखें और हाथों में दस्तानें भी पहनें. 

दिल्ली एयरपोर्ट पर पहुंचते ही सबसे पहले यात्री को प्रस्थान गेट के बाहर से अपना बोर्डिंग पास प्रिंट करना होगा. बोर्डिंग पास लेने के बाद अपने सामान को सैनेटाइजर मशीन के माध्यम से सैनेटाईज़ करना होगा. बैग सैनेटाइज करने के बाद यात्री का टेंपरेचर चेक किया जाएगा. इस दौरान आपको आरोग्य सेतु ऐप पर ग्रीन सिग्नल भी दिखाना होगा. हालांकि, कहा ये भी जा रहा है कि यात्री को आरोग्य सेतु ऐप वाले काउंटर पर अपनी पूरी जानकारी एक फॉर्म में भरनी होगी. इसमें ये बताना होगा कि आपको कोई लक्षण नहीं है और आप किसी कोविड मरीज के संपर्क में नहीं आए हैं. 

इसके बाद यात्री को आगे प्रस्थान गेट की तरफ बढ़ना होगा. यहां पर CISF के जवान एक फेस शील्ड के पीछे खड़े होकर आपका टिकट और आईडी कार्ड चेक करेंगे. इस दौरान आपको अपना फेस मास्क थोड़ा सा हटाना होगा, ताकि वो आईडी कार्ड और आपके चेहरे का मिलान कर सकें. ये पूरी प्रकिया पारदर्शी शीशे के पीछे से होगी, ताकि यात्री और CISF कर्मचारी एक दूसरे के सीधे संपर्क में ना आएं.  

यहां से आगे बढ़ते ही जैसे आप ऑटोमैटिक दरवाजे पार करेंगे, तुरंत आपके जूते को संक्रमण रहित करने के लिए मैट बिछाया गया है. इसी स्थान पर थर्मल स्क्रीनिंग मशीन लगाई गई है. यहां कैमरे से आपके शरीर के टेंपरेचर को चेक किया जाएगा. अगर आपका तापमान मानक से अधिक आता है तो आपको यात्रा करने से रोका भी जा सकता है. इसके आगे बढ़ने से पहले आपको हैंड सैनेटाइजर का प्रयोग करना होगा. ये हैंड सैनेटाइजर गेट पर मौजूद हैं, इसकी खासियत ये है कि ये टच फ्री यानी सेंसर वाला सैनेटाइजर है. 

यहां से जैसे ही यात्री एयरपोर्ट टर्मिनल बिल्डिंग में प्रवेश करेंगे, तो यहां बहुत कुछ बदला हुआ दिखाई देगा. यात्रियों को सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन करना होगा. एयरपोर्ट पर जगह-जगह सोशल डिस्टेंसिंग के लिए मार्किंग कर दी गई है. कुर्सियों के बीच जगह छोड़ा गया है. यानी अगर 4 सेट की कुर्सी है, तो बीच की 2 सीट पर ना बैठने के स्टिकर लगा दिए गए हैं. 

यहां पर सेल्फ चेक-इन काउंटर से आपको अपने चेक इन बैग के लिए टैग लेना होगा. इसके लिए आपको अपना PNR नंबर दर्ज करना होगा और आपको बैग पर टैग स्वयं लगाना होगा. हालांकि, अगर आप इस मशीन का इस्तेमाल नहीं करना चाहते हैं तो आप अपने हाथ से किसी कागज पर अपना नाम और PNR नंबर लिखकर बैग पर चिपका सकते हैं. इसके बाद आपको संबंधित एयरलाइन के काउंटर पर जाना होगा, जहां आपको अपना बैग लगेज बेल्ट पर रखना होगा और आपको अब काउंटर से कोई रसीद नहीं मिलेगी. अब यात्री के फोन नंबर पर सामान के रिसीव करने की जानकारी मैसेज की जाएगी. 

यहां से आप सीधे सिक्योरिटी चेक प्वाइंट की तरफ बढ़ेंगे जहां पर कम से कम फिजिकल चेकिंग होगी. आपको सभी मैटेल के सामान को ट्रे में निकाल कर रखना होगा. यात्री और सुरक्षाकर्मियों भी सोशल डिस्टेंसिंग दिखाई पड़ेगी. सुरक्षाकर्मी PPE किट में दिखाई पड़ सकते हैं. सिक्योरिटी चेक प्वाइंट के बाद आप रिटेल शॉप या खाने पीने की दुकान की तरफ आगे बढ़ते हैं. एयरपोर्ट पर सभी दुकानें खुली रहेंगीं लेकिन सभी को सोशल डिस्टेंसिंग और साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखना होगा. किसी भी रेस्टोरेंट में बैठकर कुछ भी खाने की इजाजत नहीं होगी. आप अपना खाना पैक करा सकते हैं. 

यहां से बोर्डिंग गेट की तरफ बढ़ने पर यात्रियों के बैठने के लिए कुर्सियों की संख्या बढ़ा दी गई है, क्योंकि अब अगल-बगल नहीं बैठ सकते हैं. एयरलाइन में प्रवेश करने से पहले आपके बोर्डिंग पास को स्कैन किया जाएगा और फिर पीछे की सीट वालों को पहले प्रवेश कराया जाएगा. 

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय से जुड़े लोगों का कहना है कि हवाई यात्रा करने वाले यात्रियों को 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन करने की कोई योजना नहीं है. लेकिन अभी भी कुछ ऐसे राज्य हैं, जो कि यात्रा के बाद क्वारांटीन करने की बात कह रहे हैं. हालांकि, इस मुद्दे पर अभी और स्पष्टीकरण की जरूरत है. केंद्र और राज्य सरकारों को इस विषय पर तत्काल एक्सेसरीज दिशानिर्देश जारी करने चाहिए, जो पूरे देश के लिए एक जैसा हो. 

हवाई यात्रा करने के लिए अब नए नियम:
1. एयरपोर्ट आने जाने के लिए निज़ी वाहन, चयनित टैक्सी और पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करना होगा.
2. वाहनों में भी सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखना होगा. 
3. एयरपोर्ट पर प्रस्थान से 2 घंटे पहले पहुंचना होगा.
4. एयरपोर्ट बिल्डिंग में उन्हीं को प्रवेश मिलेगा जिनकी फ्लाईट अगले 4 घंटे में शेड्यूल है. 
5. सभी यात्रियों को Mask & Gloves पहनना अनिवार्य. 
6. एयरपोर्ट में प्रवेश के दौरान आरोग्य सेतु ऐप दिखाना होगा. 
7. एयरपोर्ट टर्मिनल में प्रवेश से पहले यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग होगी. 
8. प्रस्थान और आगमन पर ट्रॉली का इस्तेमाल कम से कम किया जाएगा. 
9. सिर्फ जिन्हें बहुत ज़्यादा जरूरत होगी वही ट्रॉली का इस्तेमाल कर सकेंगे. 
10. एयरपोर्ट टर्मिनल बिल्डिंग में प्रवेश से पहले यात्रियों के बैग को भी सैनेटाइज किया जाएगा. 
11. एयरपोर्ट टर्मिनल के सभी गेट खुलेंगे, ताकि भीड़ से बचा जा सके. 
12. एंट्री गेट से लेकर बोर्डिंग गेट तक सोशल डिस्टेंसिंग के निशान बनाए जाएंगे, कम से कम 1 मीटर की दूरी अनिवार्य. 
13. प्रवेश द्वार पर यात्रियों के जूतों को Disinfect करने की व्यवस्था होगी. 
14. एयरपोर्ट टर्मिनल और लाउंज  में अखबार और मैगजीन रखने की इजाजत नहीं. 
15. एयरपोर्ट पर यात्रियों और स्टाफ के लिए हैंड सैनेटाइजर उपलब्ध होगा. 
16. एयरपोर्ट टर्मिनल में सभी दुकानें सोशल डिस्टेंसिंग के साथ खुलेंगी. 
17. बोर्डिंग गेट पर यात्रियों को बैच के हिसाब एयरक्राफ्ट में भेजा जाएगा. 
18. हवाई यात्रा पूरी होने के बाद बैग को फिर से सैनेटाइज एयरपोर्ट प्रशासन करेगा. 
19. टर्मिनल बिल्डिंग या शहर की तरफ एक आइसोलेशन सेंटर बनाया जाएगा, जो किसी भी आपात स्थिति में इस्तेमाल किया जाएगा. 

[source_ZEE NEWS]
%d bloggers like this: