गाजियाबाद में कोरोना वायरस के संक्रमण को कंट्रोल करेगी ‘सेक्टर स्कीम’

गाजियाबाद :  गाजियाबाद में  कोरोना वायरस के संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए प्रशासन पूरी तरह से जुटा हुआ है. वैशाली में कोरोना पॉजिटिव मामलों को रोकने के लिए कल यानी 1 जून से सेक्टर स्कीम लागू की जाएगी.  इससे  पहले खोड़ा क्षेत्र में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए  जिलाधिकारी ने खोड़ा क्षेत्र में सेक्टर स्कीम लागू की थी, जिसके सकारात्मक परिणाम आए हैं.  इसके अलावा लोनी क्षेत्र में भी यह स्कीम लागू की गई और यह साफ  किया कि जिन क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण मामलों में वृद्धि होगी, वहाँ सेक्टर स्कीम लागू करने पर विचार किया जाएगा. 

क्या है सेक्टर स्कीम 
1- वैशाली क्षेत्र में इस बात की मुनादी की जाएगी कि जो लोग वैशाली से नोएडा एवं दिल्ली में काम करने के लिए जाते हैं, वह यथासंभव वैशाली में रहें.विशेष परिस्थितियों में इन्सीडेंट कमांडर/अपर नगर नगर मजिस्ट्रेट (तृतीय) को निर्णय लेने का अधिकार है.

2-वैशाली क्षेत्र को 4 सेक्टर और 2 जोन में विभाजित किया गया है.

3-हर सेक्टर में एक मजिस्ट्रेट और एक पुलिस अधिकारी और स्वास्थ्य विभाग के पैरामेडिकल स्टाफ टीम में शामिल होंगे.

4-वैशाली क्षेत्र के प्रभारी इन्सीडेंट कमांडर/अपर नगर नगर मजिस्ट्रेट (तृतीय) एवं क्षेत्रीय अधिकारी पुलिस इंदिरापुरम होंगे

5- आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई का कार्य, फायर ब्रिगेड की गाड़ियों से सैनिटाइजेशन का कार्य, कंटेनमें प्रोटोकॉल को पूर्ण कराना, सैंपल कलेक्शन.  दिल्ली आवागमन करने वाले लोगों पर पैनी नजर रखना, मास्क न लगाने वालों और सार्वजनिक स्थलों पर थूकने  पर जुर्माना,  सोशल डिस्टेंसिंग का पालन, लोगों की काउसलिंग करने का दायित्व सेक्टर प्रभारी व उसके साथ गठित टीम का होगा.

6-सब्जी, दूध, ग्रोसरी और दवाइयों  की हॉट स्पॉट क्षेत्र में डोर स्टेप व्यवस्था करने की जिम्मेदारी इन्सीडेंट कमांडर/अपर नगर मजिस्ट्रेट (तृतीय) की होगी.

 

[source_ZEE NEWS]
%d bloggers like this: