कोरोना संकट में शादी कर सुरक्षा के लिए हाईकोर्ट पहुंचा प्रेमी जोड़ा, मास्क नहीं पहनने पर 5 हजार जुर्माना

  • फाजिल्का में बीती 27 मई को एसएसपी ऑफिस में अर्जी लगा सुरक्षा की मांग की थी प्रेमी जोड़े ने, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से हुई हाईकोर्ट में सुनवाई
  • याचिका में लगाई तस्वीर में दूल्हा-दुल्हन और साथ मौजूद लोगों ने नहीं पहन रखा था मास्क, जस्टिस हरिपाल वर्मा ने लिया कड़ा संज्ञान
  • जुर्माने की रकम 15 दिन के भीतर फाजिल्का के डिप्टी कमिश्नर ऑफिस में जमा करानी होगी, इसे जिले में मास्क वितरण पर खर्च किया जाएगा

दैनिक भास्कर

Jun 03, 2020, 02:14 PM IST

फाजिल्का (राकेश कुमार). कोरोना के संक्रमण से निपटने के लिए सरकारी तंत्र का हर मंच अपने हिसाब से काम कर रहा है। पंजाब में मास्क नहीं पहनकर बाहर निकलने पर 500 रुपए जुर्माना है, वहीं बुधवार को एक बड़ी रोचक घटना सामने आई है। दरअसल, फाजिल्का का एक प्रेमी जोड़ा शादी करके सुरक्षा के लिए पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट पहुंच गया। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से सुनवाई के दौरान जब जज की नजर मास्क नहीं पहने दूल्हा-दल्हन पर पड़ी तो उन्होंने दोनों को 5 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है। कोर्ट के आदेश के मुताबिक जुर्माने की रकम 15 दिन के भीतर फाजिल्का के डिप्टी कमिश्नर ऑफिस में जमा करानी होगी और इसे जिले में मास्क वितरण पर खर्च किया जाएगा।

मिली जानकारी के अनुसार फाजिल्का से एक प्रेमी युगल ने अपने घर वालों की मर्जी के खिलाफ शादी की थी। इसके बाद प्रेमी युगल को इस बात का डर सता रहा था कि उनके घर वाले उन्हें नुकसान पहुंचा सकते हैं या उन्हें अलग करने की कोशिश कर सकते हैं। ऐसे में 27 मई को उन दोनों ने फाजिल्का के एसएसपी के सामने अपनी जान-माल की सुरक्षा की गुहार लगाई थी।

मामला सुनवाई के लिए हाईकोर्ट में पहुंच गया। इस दौरान प्रेमी युगल के वकील ने दलील दी कि लड़का लड़की दोनों बालिग हैं और इन्होंने अपनी मर्जी से शादी की है। इनकी सुरक्षा सुनिश्चित किया जाए। इस अपील पर हाईकोर्ट ने एसएसपी को प्रेमी युगल को सुरक्षा मुहैया करने का आदेश दिया।

मजेदार पहलू यह है कि कोरोना के संक्रमण के मद्देनजर इन दिनों हाईकोर्ट में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के सहारे सुनवाई हो रही है। आदेश सुनाने के बाद जस्टिस हरिपाल वर्मा की निगाह प्रेमी युगल की याचिका में लगाई गई उस तस्वीर पर पड़ी, जिसमें दिख रहा था कि शादी के समय दूल्हा-दुल्हन और वहां मौजूद लोगों ने मास्क नहीं पहन रखा था। जज ने आदेश दिया कि मास्क नहीं पहनने के लिए दूल्हा दुल्हन को 5000 जुर्माना देना होगा। जुर्माने की रकम 15 दिन के भीतर फाजिल्का के डिप्टी कमिश्नर के ऑफिस में जमा में जमा होगी और यह रकम जिले में मास्क वितरण में खर्च की जाएगी।

Source BHASKAR

%d bloggers like this: