कोरोना ने पर्यटकों को किया कश्मीर से दूर, भारी नुकसान झेल रही टूरिज्म इंडस्ट्री

श्रीनगर: देश में जब गर्मी अपना कहर ढाती थी, तब  कश्मीर का मौसम सबको यहां खींच लाता था. लेकिन कोरोना ने इस बार देश-विदेश के लोगों को यहां से दूर रखा है. पर्यटक तो पर्यटक स्थानीय लोग भी भयभीत हैं. 

जब पूरे देश में तापमान कहर ढाता, तब देश के पर्यटक कश्मीर का रुख करते थे, मगर इस बार ऐसा नहीं हो रहा है. कोरोना वायरस के कारण पैदा हुए डर और लॉकडाउन ने पर्यटकों को कश्मीर से दूर रखा है.

कश्मीर में अगर कुछ आज ठीक है तो वो है यहां का मौसम दिन का तापमान 27 डिग्री तो रात का तापमान 5 डिग्री के आस-पास है. कश्मीर का ताज डल झील सुनसान पड़ा है. सभी बाग और पर्यटन स्थल खाली पड़े हैं. दूर दूर तक स्थानीय लोग नहीं दिखते, पर्यटकों की बात तो जाने दीजिए. 

पर्यटन कारोबार से जुड़े लोगों का कहना है कि यही मौसम होता था कश्मीर में पर्यटन का जब देश भर में गर्मी पड़ती थी, तो कश्मीर में बहार आती थी, मगर आज कोई नहीं है यहां.

हाउसबोट मालिक भट नाधीम कहते हैं, ‘बहुत सारे पर्यटक यहां आते थे, कश्मीर को नजर लग गई है, अभी पर्यटन का मेन सीजन था. चाहे वो शिकारे वाला हो या हाउसबोट वाला, या फिर बात करें होटल वालों की, लेकिन अब हर जगह खाली है. काफी नुकसान सहना पड़ रहा है. सभी इसी पर निर्भर हैं और सब बंद हो गया.’

मोहम्मद अमीन कहते हैं,  ‘ जब गर्मी बढ़ती थी तो पर्यटक यहां आते थे, लेकिन पिछले कुछ महीनों से सब ठप है, सब चौपट है.’

गौरतलब है कि कश्मीर में पहले से मंदी की मार झेल रही पर्यटन इंडस्ट्री करोना की मार से पूरी तरह डूब गई है. लगभग पिछले कुछ महीनों में काफी नुकसान इंडस्ट्री ने झेला है. अब उन्हें उम्मीद है कि सरकार आगे आकर मदद का हाथ बढ़ाएगी ताकि इस इंडस्ट्री को फिर से जीवन मिले.

[source_ZEE NEWS]
%d bloggers like this: