Advertisements

कर्फ्यू में नशा छोड़ने के लिए रजिस्टर्ड हुए 7134 नए मरीज

  • नशे की सप्लाई चेन ठप होने से ओट क्लीनिकों व नशामुक्ति केंद्रों में पहुंच रहे नशा पीड़ित

दैनिक भास्कर

May 22, 2020, 08:44 AM IST

संगरूर. कोरोनावायरस को रोकने के लिए लगाए गए कर्फ्यू के दौरान पंजाब सरकार की नशामुक्ति मुहिम को बड़े स्तर पर सफलता मिली है। इसके तहत हजारों की संख्या में नशा पीड़ित मरीज ओट क्लीनिकों व नशामुक्ति केंद्रों में पहुंचे हैं। डीसी घनश्याम थोरी ने कहा कि पंजाब सरकार के सेहत विभाग की ओर से चलाए जा रहे नशामुक्ति प्रोग्राम को काफी अच्छा परिणाम मिल रहा है। पंजाब में लगाए गए कर्फ्यू में 23 मार्च से 19 मई तक जिले के ओट क्लीनिकों में 7134 नए मरीज  रजिस्टर्ड हुए हैं। सिर्फ 19 मई को ही जिले में 93 नए मरीज आए हैं। उन्होंने कहा कि जिले में अब तक 12 हजार 169 मरीज नशा छोड़ने के लिए अपने आप को रजिस्टर करवा चुके हैं।

उन्होंने कहा कि 23 मार्च से 19 मई तक 1944 ऐसे नशा पीड़ित मरीज आए हैं, जो पहले प्राइवेट नशामुक्ति केंद्रों में इलाज करवा रहे थे। इसके अलावा डी एडिक्शन सेंटर संगरूर व मालेरकोटला में भी 118 मरीज रजिस्टर हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि नशा मुक्ति केंद्रों में दवा देते समय सामाजिक दूरी का खास ध्यान रखा जा रहा है। मरीजों को कोविड-19 संबंधी भी जागरूक किया जा रहा है। नशा मुक्ति प्रोग्राम का मुख्य मकसद गुमराह हुए नौजवानों को दोबारा जिंदगी के रास्ते पर लेकर आना है और इलाज मुहैया करवा सेहतमंद बनाना है।

उन्होंने कहा कि डॉक्टर इन मरीजों के इलाज के लिए जरूरी दवा दे रहे हैं, ताकि नशा छुड़वाया जा सके। उन्होंने कहा कि नशे की आदत से पीड़ित व्यक्ति इलाज करवाने के लिए 01672-232304 पर कॉल करके अपने आप को रजिस्टर करवा सकता है। यदि कोई भी व्यक्ति अवैध शराब या किसी अन्य नशे की बिक्री सबंधी जानकारी देना चाहता है तो जिला प्रशासन के वाट्सएप हेल्पलाइन नंबर 95924-30781 पर संपर्क किया जा सकता है।

Source BHASKAR