कर्ज से परेशान नेशनल प्लेयर ने रची खुद को मारने की साजिश, फिर अपनी ही चाल में फंसा

नई दिल्ली: दिल्ली (Delhi) के कंझावला इलाके में रहस्मय तरीके से गायब हुए पॉवर लिफ्टिंग के नेशनल खिलाड़ी दीपक डबास (Deepak Dabas) की गुत्थी को रोहिणी जिला स्पेशल स्टॉफ ने सुलझा लिया है. दरअस्ल डेढ़ करोड़ के कर्जे से परेशान होकर दीपक खुद ही कार में आग लगाकर हरिद्वार भाग गया था. सोमवार दोपहर को हरिद्वार से दिल्ली आते समय उसे मेरठ से दबोच लिया गया. दीपक ने खुलासा किया है कि उसने 15 मई को कार में आग लगाकर खुद भी उसके साथ जलकर आत्महत्या का प्रयास किया था, लेकिन दम घुटने पर वह कार से बाहर निकल आया. बाद में वह हरिद्वार चला गया.

ये भी पढ़ें: शख्स ने सोशल मीडिया पर डाला पत्नी को बेचने का विज्ञापन, वजह हैरान कर देगी

पुलिस के मुताबिक दीपक परिवार के साथ चांदपुर कलां, कंझावला में रहता है. इसके पिता करतार सिंह दिल्ली पुलिस से हवलदार रिटायर हैं. दीपक प्रॉपर्टी डीलिंग के अलावा ब्याज पर पैसा देने के अलावा अपना जिम भी चलाता है. दीपक की पत्नी कविता भी पॉवर लिफिटंग की राष्ट्रीय खिलाड़ी है. 15 मई को दीपक के गायब होने के बाद परिवार ने उसके अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया था. दीपक की कार भी गांव के बाहर जली हुई मिली थी. पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू की. जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि दीपक पर डेढ़ करोड़ से अधिक का कर्जा था.

पुलिस ने परिजनों से घर के सभी खातों की डिटेल लेकर उन पर नजर रखना शुरू कर दिया. इस बीच 19 मई को कविता के खाते से शामली, यूपी में कुछ रुपये निकले. फौरन पुलिस की एक टीम को शामली भेजा गया. वहां सारे होटल, ढाबे, धर्मशाला में दीपक की तलाश की गई.

इस बीच पुलिस को सूचना मिली कि दीपक हरिद्वार में छिपा है. जानकारी जुटाकर पुलिस उस तक पहुंचने का प्रयास करने लगी. इस बीच सोमवार सुबह पुलिस को पता चला कि दीपक हरिद्वार से दिल्ली आ रहा है. पुलिस की एक टीम को रवाना कर दिया गया. टीम ने उसे मेरठ से दबोच लिया. पुलिस की जांच में दीपक ने खुलासा कि उसने खुद कर्जा लेकर लोगों को ब्याज पर रुपये दिए थे. उसके रुपये डूब गए. अब उस पर खुद मोटा कर्जा हो गया था. 

इससे परेशान होकर उसने आत्महत्या का प्रयास किया, लेकिन वह सफल नहीं हुआ और पैदल ही हरिद्वार चला गया. बाद में वह कभी हरिद्वार तो कभी शामली के आसपास घूमता रहा. सोमवार को वह हरिद्वार से घर आने के लिए निकला था, लेकिन उससे पहले ही पुलिस ने उसे पकड़ लिया. दीपक को सकुशल पाकर उसके परिजन भी बेहद खुश हैं. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.

LIVE TV

[source_ZEE NEWS]
%d bloggers like this: