Advertisements

एक जून से चलेंगी ट्रेनें: महज 3 घंटे में 1.8 लाख से ज्यादा टिकट हुए बुक

नई दिल्ली: कोरोना संकट (Corona virus) की वजह से थमे ट्रेनों से पहियें जल्द सरपट दौड़ने वाले हैं. रेलवे ने एक जून से 200 ट्रेनें एक साथ चलाने का ऐलान किया है. इन ट्रेनों के लिए गुरुवार सुबह 10 बजे से ऑनलाइन बुकिंग शुरू की गई, और महज तीन घंटों में 1.8 लाख से ज्यादा लोगों ने टिकट बुक करा लिए. रेलवे द्वारा जारी की गई 200 ट्रेनों की सूची में दुरंतो, संपर्क क्रांति, जन शताब्दी और पूर्वा एक्सप्रेस जैसी लोकप्रिय ट्रेनें शामिल हैं और ये सभी प्रमुख शहरों को जोड़ती हैं.

गुरुवार सुबह 76 ट्रेनों के लिए रिजर्वेशन शुरू किया गया था और दोपहर 1 बजे तक, 4,78,538 यात्रियों के लिए 1,78,990 टिकट बुक कराये गए. कोरोना संकट को देखते हुए रेलवे ने मार्च से अधिकांश यात्री ट्रेनों का संचालन बंद कर रखा था. हालांकि, बीच में प्रवासी मजदूरों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने के लिए कुछ स्पेशल ट्रेनें चलाई गईं. अब जब एक जून से 200 ट्रेनों के संचालन की घोषणा की गई है, तो लोग घर वापसी का कोई मौका नहीं छोड़ना चाहते. यही वजह है कि रिजर्वेशन काउंटर खुलने के साथ ही सीटें धड़ाधड़ बुक हो रही हैं. इन ट्रेनों में एसी और नॉन एसी और पूरी तरह से आरक्षित कोच होंगे.

रेलवे के मुताबिक, ये ट्रेनें नियमित ट्रेनों के पैटर्न पर चलने वाली विशेष ट्रेनें होंगी और इसमें टियर-2 शहरों सहित मुंबई एवं कोलकाता जैसी प्रमुख राज्यों की राजधानियों को भी शामिल किया जाएगा. इससे पहले दिल्ली से अन्य प्रमुख शहरों को जोड़ने वाली विशेष राजधानी ट्रेनों का संचालन किया जाता था. एक जून से चलने वालीं ट्रेनों में एसी और नॉन एसी दोनों शामिल हैं. इसमें जनरल (GS) कोच भी होगा, लेकिन उसके लिए भी रिजर्वेशन कराना होगा. बिना आरक्षण के किसी को सफर की अनुमति नहीं होगी. 

इन ट्रेनों के लिए केवल IRCTC वेबसाइट या मोबाइल ऐप के माध्यम से ऑनलाइन टिकट बुक किये जा सकते हैं. रेलवे ने साफ किया है कि स्टेशन के रिजर्वेशन काउंटर से फिलहाल इन ट्रेनों के टिकट बुक नहीं किये जाएंगे. हालांकि, रेल मंत्री पीयूष गोयल ने गुरुवार को कहा कि अगले 2-3 दिनों में स्टेशनों के टिकट काउंटरों पर बुकिंग फिर से शुरू हो जाएगी. गोयल ने कहा, ‘हम अध्ययन कर रहे हैं, प्रोटोकॉल तैयार कर रहे हैं. हमारी कोशिश ज्यादा से ज्यादा ट्रेनें शुरू करनी की है, ताकि देश को सामान्य स्थिति में लाया जा सके. 

 

[source_ZEE NEWS]