ईद पर भी सूबे के बाजारों की रौनक फीकी रही, जालंधर में घर जाने के इच्छुक श्रमिकों ने किया प्रदर्शन

  • जालंधर में पठानकोट बाईपास पर फ्लाईओवर के नीचे इकट्‌ठा हो प्रवासी बोले-पीने को पानी भी नहीं
  • राज्य में अब तक कुल संक्रमित की संख्या 2160 पहुंची, इनमें से 46 की जान जा चुकी है

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 01:33 PM IST

जालंधर. पंजाब में कोरोना वायरस का संक्रमण आए दिन नई मुसीबत खड़ी कर रहा है। अब तक राज्य में 2160 लोग संक्रमित पाए जा चुके हैं। हालांकि 87 प्रतिशत लोग ठीक भी हो गए हैं, पर 46 की जान भी यह खतरनाक वायरस ले चुका है।

दूसरी ओर कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए देशभर के साथ पंजाब में भी चौथे फेज का लॉकडाउन जारी है। रात में कर्फ्यू तो दिन में सामान्य लॉकडाउन के बीच लोगों की परेशानियां और लॉकडाउन का पालन कराने के लिए प्रशासन की सख्ती भी खत्म होने का नाम नहीं ले रही। इन हालात का सीधा-सीधा असर बाजार पर पड़ रहा है। यहां तक कि मुस्लिम समुदाय के लोग ईद-उल-फितर का त्योहार भी घरों में रहकर ही मनाएंगे। बाजारों में भी रौनक देखने को नहीं मिल रही है। 

रेलवे की बुकिंग शुरू होने के बावजूद न के बराबर आ रहे लोग
रेलवे स्टेशन पर आरक्षण केंद्र को मंत्रालय की हिदायतों के बाद अब सुबह आठ बजे से शाम आठ बजे तक शुरू कर दिया है। आरक्षण केंद्र शुरू होने के बावजूद बहुत कम लोग रिजर्वेशन करवाने पहुंच रहे हैं। शनिवार को आरक्षण केंद्र पर सिर्फ छह रिजर्वेशन हुए। अधिकारी पूरी सावधानी बरतते हुए लोगों को आरक्षण केंद्र में आने की अनुमति दे रहे हैं।

बसों में सवारियां नहीं, निजी वाहनों को ज्यादा तवज्जो दे रहे

राज्य में पिछले कुछ दिनों से बस सेवा तो शुरू कर दी गई है। लेकिन, सवारियां न के बराबर मिल रही है। कारण है, लोगों का पब्लिक ट्रांसपोर्ट पर विश्वास ही नहीं बन पाना। कोरोना संक्रमण के डर से ज्यादातर लोग निजी वाहनों के द्वारा ही जाने को पहल दे रहे हैं।

जालंधर में पठानकोट बाईपास पर सरकार के खिलाफ नाराजगी जताते प्रवासी श्रमिक।

पांच दिन से फ्लाईओवर के नीचे पड़े हैं सैकड़ों श्रमिक
जालंधर में पठानकोट बाईपास पर फ्लाईओवर के नीचे इकट्‌ठा होकर प्रवासी मजदूरों ने प्रदर्शन किया। इनका कहना है कि पिछले 5 दिन से रजिस्ट्रेशन के इंतजार में यहां फ्लाईओवर के नीचे पड़े रहने को मजबूर हैं। एक ओर जहां किसी भी बस या ट्रेन वगैरह का कोई इंतजाम नहीं किया गया, वहीं इतनी गर्मी में पीने को पानी तक भी नसीब नहीं हो रहा।

गुरदासपुर के कस्बा कादियां में एक कॉस्मेटिक शॉप।

दुकानदार बोले- जो स्टॉक में है, वो ग्राहकों को पसंद नहीं आ रहा
गुरदासपुर के कादियां में कॉस्मेटिक्स विक्रेता मनसूर अहमद घनोके का कहना है कि रमजान की ईद से पूर्व महिलाएं काफी शॉपिग करती थीं, मगर इस बार लॉकडाउन के कारण लोग बाजारों में खरीदारी करने बहुत कम संख्या में पहुंच रहे हैं। दुकानदार और ग्राहक दोनों ही निराश रहे हैं। बाजार में जो है, वो लोगों को पसंद नहीं आ रहा।

लुधियाना में बिना वाजिब वजह के सड़क पर घूम रहे वाहन चालक का चालान करते पुलिस अधिकारी।

सख्ती: दुकानें बंद करवा पुलिस कर्मचारी सेल्फी के साथ भेज रहे अपडेट
पुलिस कमिश्नर राकेश अग्रवाल ने रात के क‌र्फ्यू का पालन करवाने के लिए काफी सख्ती कर दी है। फील्ड में तैनात अधिकारियों से रिपोर्ट लेने के लिए सभी थाना प्रभारियों, एसीपी, एडीसीपी और डीसीपी स्तर के अधिकारियों का व्हाट्सऐप्प ग्रुप बनाया है। मुलाजिम अपने-अपने एरिया में शाम छह बजे बाजार बंद करवाने के बाद सेल्फी लेकर ग्रुप में डालते हैं, ताकि उच्चाधिकारियों को पता चल सके कि उन्होंने सभी दुकानें बंद करवा दी हैं। यही नहीं, सीपी और अन्य आला अधिकारी फील्ड में उतरकर चेक भी करते हैं।

आज 8 हजार मजदूरों को अपने घर लेकर जाएंगी पांच विशेष ट्रेनें

जालंधर सिटी रेलवे स्टेशन से सुबह 10 बजे 1600 श्रमिकों को लेकर भागलपुर के लिए रवाना हो चुकी है। दोपहर 1 बजे मुजफ्फरपुर, शाम 4 बजे अरारिया, शाम 7 बजे वैशाली और रात 10 बजे झारखंड के कोडरमा के लिए भी 4 और ट्रेनें 1600-1600 मजदूरों को लेकर जाएंगी।

Source BHASKAR

%d bloggers like this: