अमृतसर में पुलिस की सख्ती के आगे हारे दरबार साहिब के श्रद्धालु, घंटों इंतजार के बाद बिना दर्शन लौटे

  • पंजाब में कोरोना से अब तक 2382 लोग संक्रमित हो चुके हैं, वहीं इनमें से 50 की मौत हो गई
  • कैदियों और हवालातियों को जेल में बंद किए जाने से पहले कोरोना टेस्ट के लिए लुधियाना में बनाया सेंटर

दैनिक भास्कर

May 31, 2020, 01:55 PM IST

अमृतसर. पंजाब में कोरोना से अब तक 2382 लोग संक्रमित हो चुके हैं, वहीं इनमें से 50 की मौत हो गई। इस खौफ से निपटने के लिए लॉकडाउन को राज्य की सरकार 30 जून तक बढ़ा चुकी है। लॉकडाउन-5 की घोषणा करते हुए मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने शनिवार रात केंद्र सरकार द्वारा घोषित अनलॉक-1 के अनुरूप कुछ छूट देने की बात भी कही। सोमवार से राज्य में नई व्यवस्थाएं लागू होंगी, लेकिन इससे पहले रविवार को लॉकडाउन फेज-4 के 14वें और आखिरी दिन कड़ी सख्ती देखने को मिली।

अमृतसर में दुकानदारों को लॉकडाउन का पालन करने के लिए जागरूक करते पुलिस कमिश्नर डॉ. सुखचैन सिंह गिल और अन्य पुलिस अधिकारी।

अमृतसर में आज रविवार होने के कारण स्वर्ण मंदिर के श्रद्धालुओं की भीड़ जमा हुई देखी गई, पिछले सप्ताह की अपेक्षा आज पुलिस भारी पड़ी। घंटों इंतजार करने के बाद श्रद्धालुओं को बिना दर्शन किए लौटना पड़ा। दरअसल, जिले में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। क‌र्फ्यू खोलने के बाद लोग सरकारी गाइडलाइंस का पालन नहीं कर रहे हैं। ऐसे में डिप्टी कमिश्नर शिवदुलार सिंह ढिल्लों ने अब सख्ती बरतने के आदेश जारी कर दिए हैं।

जालंधर, अमृतसर, फगवाड़ा और फिरोजपुर के अपराधियों का होगा चेकअप

राज्य में अब कैदियों और हवालातियों को जेल में बंद किए जाने से पहले कोरोना टेस्ट से गुजरना होगा। इसके लिए लुधियाना की जेल में कोरोना टेस्ट सेंटर बनाया गया है, जहां जालंधर के साथ-साथ अमृतसर, फगवाड़ा और फिरोजपुर के अपराधियों का कोरोना टेस्ट कराया जाएगा। उसके बाद 14 दिन तक क्वारैंटाइन किया जाएगा। जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आएगी, उसे संबंधित जेल में भेजा जाएगा और अगर रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो संबंधित को अस्पताल में भर्ती किया जाएगा।

पठानकोट जिले के गांव नारायणपुर में शामलात भूमि पर कब्जे छुड़ाने आई वन विभाग की टीम का विरोध करते ग्रामीण।

पठानकोट जिले के गांव नारायणपुर में शामलात भूमि पर कब्जे छुड़ाने को लेकर वन विभाग और ग्रामीणों में विवाद हो गया। कब्जे की निशानदेही करने पहुंची राजस्व विभाग टीम को स्थानीय निवासियों के विरोध का सामना करना पड़ा। तनाव के बीच विभागीय टीम को खाली हाथ लौटना पड़ा। इससे पहले गांव की महिला सरपंच के पति कल्याण सिंह के नेतृत्व में लोगों ने प्रदर्शन किया।

जालंधर में बरामद की गई भुक्की के साथ पुलिस टीम। लॉकडाउन के बीच भी तस्कर गलत हरकतों से बाज नहीं आ रहे।

लॉकडाउन के बीच जालंधर कमिश्नरेट पुलिस ने एक क्विंटल भुक्की समेत दो नशा तस्करों को गिरफ्तार किया है। पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत भुल्लर ने कहा कि सीआईए-1 की टीम ने ट्रांसपोर्ट नगर में नाकाबंदी कर रखी थी। इस दौरान सूचना मिली कि ट्रक का मालिक जम्मू कश्मीर से भुक्की लेकर आया है और यह ट्रक लस्सी ढाबा के बाहर खड़ा है। पुलिस ने तुरंत एसीपी नॉर्थ सतिंदर चड्ढा की अगुआई में उसकी तलाशी ली। इसी दौरान ट्रक के केबिन में बनाई खास जगह से प्लास्टिक के लिफाफे से भुक्की बरामद हुई।

कोरोना के खौफ में अमेरिका से आया तो खुली 28 साल पुरानी धोखाधड़ी की पोल, खुद को मरा बता भागा था
पटियाला में सीबीआई ने एक शख्स को 28 साल पुराने मामले में गिरफ्तार किया है। बताया जाता है कि निर्मल सिंह नामक इस शख्स पर धोखाधड़ी का केस दर्ज हुआ था। इससे बचने के लिए वह अपना डेथ सर्टिफिकेट बनवाकर सीबीआई को गुमराह करते हुए नाम बदलकर अमेरिका चला गया। अब जब कोरोना से खौफ खा भारत आया तो सीबीआई ने उसे धर दबोचा।

बठिंडा में बाहर से लाए गए लोगों ने लगाए परेशान करने के आरोप
बठिडा में विदेशों से लौटने वाले एनआरआईज व विदेशों में घूमने के लिए जाने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इनका आरोप है कि प्रशासन उनके साथ अपराधियों जैसा व्यवहार कर रहा है। उनके पासपोर्ट तक प्रशासन ने जब्त कर रखे हैं।

Source BHASKAR

%d bloggers like this: