अमृतसर में दुर्ग्याणा तीर्थ खोले जाने से पहले सैनिटाइज किया, लुधियाना में भी सोमवार से ओपीडी खुलेगी

  • राज्य में शुक्रवार को जालंधर में भी 8 नए मामले जुड़ने के बाद अब तक का आंकड़ा 2566 हो गया है, इनमें से 53 लोगों की मौत हो गई
  • 88% के करीब मरीज स्वस्थ भी हो चुके, वहीं तरनतारन जिला भी कोरोना मुक्त होने के करीब पहुंच गया है

दैनिक भास्कर

Jun 05, 2020, 02:08 PM IST

अमृतसर. पंजाब में कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए लगे पांचवें फेज के लॉकडाउन का शुक्रवार को पांचवां दिन है। सरकार की तरफ से कई तरह की राहत दिए जाने के चलते बाजारों और ऑफिसों में भीड़ जमा हो रही है। अनलॉक का असर संक्रमण पर भी पड़ रहा है। राज्य में गुरुवार को 58 नए मामले सामने आए, वहीं शुक्रवार को जालंधर में भी 8 नए मामले जुड़ने के बाद अब तक का आंकड़ा 2566 हो गया है। इनमें से राज्य में अब तक 53 लोगों की मौत हो गई, वहीं 88% के करीब मरीज स्वस्थ भी हो चुके हैं।

दुर्ग्याणा मंदिर परिसर को सैनिटाइज करता एक वालंटियर। प्रशासन की तरफ से यहां पूरे ऐहतियात बरते जाने के संबंध में निर्देश दिए गए हैं।

अमृतसर में राज्य में सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमित होने के साथ-साथ प्रशासन भी खासा गंभीर नजर आ रहा है। अनलॉक-1 में 8 जून को दुर्ग्याणा तीर्थ को खोले जाने की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। इनके चलते शु़क्रवार को मंदिर परिसर को सैनिटाइज किया जा रहा है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के दिशा-निर्देशों के मुताबिक यहां मूर्तियों, ग्रंथों को छूना मना है। सामूहिक प्रार्थना के साथ-साथ प्रसाद या पवित्र जल वितरण पर भी पाबंदी रहेगी।

पटियाला में खुले सरकारी ऑफिसों में मुलाजिम तो फिजिकल डिस्टेंसिग अपना रहे हैं, लेकिन वहां पहुंच रही पब्लिक मानने को तैयार नहीं। सबसे ज्यादा भीड़ मिनी सेक्रेटेरिएट, आरटीए दफ्तर में देखी जा सकती है।

ओपीडी शुरू होने से पहले इस तरह हो रही तैयारियां

लुधियाना सिविल अस्पताल में सोमवार से ओपीडी शुरू होने जा रही है। इससे पहले कोरोना के 18 संदिग्ध मरीजों को शुक्रवार को मदर एंड चाइल्ड अस्पताल वर्धमान में भेज दिया गया। इसके बाद पूरे सिविल अस्पताल को सैनिटाइज किया जा रहा है।

गुरदासपुर सिविल डिफेंस के वालंटियर्स राहगीरों को मास्क बांटते और जानकारी देते हुए।

मिशन फतेह के तहत गुरदासपुर सिविल डिफेंस ने जागरूकता मुहिम शुरू की। इसकी शुरुआत थाना सिविल लाइन एसएचओ मुख्तियार सिह, इंस्पेक्टर बलविंद्र सिंह और पोस्ट वार्डन हरबख्श सिंह ने पुलिस नाकों, बाईपास चौक और गुरदासपुर रोड पर मास्क बांटकर की गई। इस दौरान पुलिस विभाग व सिविल डिफेंस के वालंटियर ने कहा कि घर से बाहर जाते समय मुंह पर मास्क, शारीरिक दूरी और सार्वजनिक स्थल पर थूकने से परहेज करें।

पठानकोट से रोडवेज ने बसों के तीन रूटों पर 2-2 फेरे बढ़ाए
पठानकोट रोडवेज डिपो ने सर्विस बढ़ाना शुरू कर दिया है। पहले से जहां अमृतसर-चंडीगढ़ व जालंधर के लिए तीन-तीन बसें चल रही थी, वहीं शुक्रवार से इस सर्विस को बढ़ाकर पांच-पांच कर दिया है। एक-दो दिन बाद इनमें और बढ़ोतरी कर दी जाएगी। साथ ही डिपो आदेश मिलने के बाद इंटर स्टेट सुविधा भी जल्द शुरू कर देगा।

तरनतारन में ठीक हो चुके मर्चेट नेवी के जवान गुरप्रीत सिंह को विदा करते स्वास्थ्य विभाग की टीम।

जिला तरनतारन को कोरोना से मुक्ति मिलने लगी है। आज मर्चेट नेवी के जवान गुरप्रीत सिंह ने कोरोना को मात देकर अपने घर लौटे। गांव कच्चा-पक्का निवासी जसवंत सिंह का लड़का गुरप्रीत सिंह चार माह 22 दिन से मुंबई स्थित समुंदर में तैनात था। 15 मई को तरनतारन से संबंधित मर्चेट नेवी के चार जवान वापस लौटे थे। इनको घरों में ही क्वारैंटाइन किया गया था। बाद में गुरप्रीत सिंह कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। डॉक्टरों ने गुरप्रीत को अस्पताल से विदा कर उनका सम्मान किया। अस्पताल में अब कोरोना के तीन मरीज बचे हैं।

Source BHASKAR

%d bloggers like this: